महिला दिवस पर महिलाओं ने समस्याओं को लेकर रेल रोको और पदयात्रा के साथ संघर्ष करने का लिया संकल्प.: जनवादी महिला समिति

9.03.2019

अंतरास्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर ग्राम मड़वाढोडा में 15 गांव की महिलाएं जनवादी महिला समिति के नेतृत्व में एकत्रित होकर महिला दिवस मनाते हुए अपने समस्याओं के खिलाफ इंकलाब की आवाज को बुलंद करते हुए संघर्ष के रास्ते पर चलते हुए महिला दिवस पर जनांदोलन शुरू कर रेल रोको आंदोलन का संकल्प लिया

जनवादी महिला समिति द्वारा ग्राम मड़वाढोडा में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिलाओं के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता देव कुंवर ने किया कार्यक्रम में मुख्य रूप से जनवादी महिला समिति कि राज्य अध्यक्ष धनबाई कुलदीप, जनक दास, सपुरन कुलदीप, प्रशांत झा,प्रताप दास,नंदलाल,जवाहर सिंह कंवर, अभिजीत गुप्ता ने संबोधित किया धनबाई ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि 8 मार्च1857 के दिन अमेरिका के सूती कपड़ा उद्योग में काम करने वाले हजारों मजदूर महिलाएं ने काम के घंटे16 से घटाकर 10 घंटे करने कि मांग को लेकर विशाल प्रदर्शन किया आधुनिक इतिहास में यह पहली घटना थी जब इतनी बडी संख्या में महिलाएं अपनी मांगों को लेकर सड़क पर उतरी थी इसी के याद में 1910 में 8 मार्च को अंतरास्ट्रीय महिला दिवस मनाना तय हुआ और तब से पूरे दुनिया में इस दिन महिला दिवस मनाया जा रहा है

जिस दिन महिला श्रम का हिसाब होगा मानव इतिहास कि सबसे बड़ी चोरी पकड़ी जाएगी
कार्यक्रम के अंत में पीड़ित किसान महिलाओं ने पदयात्रा में जिला प्रशासन की उदासीनता खिलाफ रेल रोको और रायपुर तक पदयात्रा के साथ मूलभूत समस्याओं को लेकर संघर्ष तेज करने का संकल्प लिया कार्यक्रम का संचालन उर्मिला महंत,ने किया और मुख्य रूप से दिलहरण बिंझवार, बाबूलाल,नोहर लाल,भानु,गायत्री देवी, कमलेश कंवर, ममता कंवर, लखेश्वरी,तेरस बाई, मिना कंवर, राजकुमारी, सुकृता, सुमित्रा, के साथ बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थे.

***

Be the first to comment

Leave a Reply