6.03.2019

अभी अभी निजी जानकारी मिली है कि

 

Iqbal Abhimanyu से जानकारी मिली है कि समाजवादी जन परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और नियमगिरि सुरक्षा समिति के नेता Lingaraj Azad को कालाहांडी जिले के केसिंगा थाने में किसी पुराने मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है. वेदान्त कंपनी की खदान और रिफायनरी के खिलाफ आदिवासियों के सशक्त आन्दोलन को दबाने के लिए ओडिशा सरकार पूरी ताकत लगा रही है. नियमगिरि आन्दोलन पर लगातार पुलिसिया दमन और आदिवासी कार्यकर्ताओं को माओवादी बताकर गिरफ्तार करने के सिलसिले के खिलाफ 11 तारीख भुवनेश्वर में धरना रखा गया था, उसी से घबराकर यह कार्यवाही की गयी है.
अभी सजप के बहुत से साथी राष्ट्रीय सम्मेलन के लिए भुवनेश्वर में पहुँचने वाले हैं.
इस दमन चक्र के खिलाफ हम सभी को खड़े होना चाहिए.
इन्कलाब जिंदाबाद!
लिंगराज आज़ाद को रिहा करो!

लिंगराज को गिरफ्तार कर लिया गया है .
आज़ाद जी के छोटे बेटे से बात हुई, उन्होंने बताया कि पापा को सुबह 6 बजे कशिंगा थाना से पुलिस लेने अाई थी ये कहकर कि थाने में बुलाया गया है तो ले गए उन्हें, कुछ और जानकारी नहीं दी।
इसके बाद अभी उन्हें कोर्ट ले जा रहे है।
और वो वहा अकेले है और फोन घर पर ही वापस करवा दिए थे, आगे की और कोई जानकारी उनको भी नहीं हो सकी है, ना किसी FIR की बात उन्हें पता है।

बिम्बाधर व प्रफुल्ल सामंतरा से साथी अफ़लातून की बात हुई है, और आज़ाद भाई के बेटे से भी। आज़ाद को लांझीगढ़ थाना के 1 पुराने केस में पेशी पर न जाने के कारण भवानीपटना ले गये हैं। गिरफ्तार करेंगें।
लिंगराज भाई उस फ़र्ज़ी केस की तारीख़ों में नहीं जाने का फ़ैसला लिए थे

अभी अधिकृत और विस्तृत जानकारी प्राप्त की जा रही है.

**