इतवारी कविता में आज हम लेकर आये हैं
अनिल करमेले की कविता : लोहे की धमक
वाचन स्वर : बहादुर पटेल
विडिओ एडिटिंग : कृष्ण पटेल
तो सुनिए और देखिए। हमेशा की तरह आपकी प्रतिक्रियाओं का इंतज़ार रहेगा।

प्रस्तुति : ज्योति देशमुख

दस्तक़ में प्रस्तुत