पत्रकारों ने काले गुब्बारे से किया पीएम मोदी का स्वागत, अब अमित शाह को बताएंगे छत्तीसगढ़ भाजपा का हाल  .

पत्रकारों के आंदोलन को देश भर में समर्थन, लोकसभा से पहले भाजपा की मुश्किलें बढ़ी.

9.02.2019 / रायपुर 

रायपुर। पिछले सात दिनों से पत्रकार भाजपा कार्यालय में हुए पत्रकारों के साथ मारपीट का विरोध कर रहे है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी के छत्तीसगढ़ दौरे पर भी पत्रकारों ने अपना रोष जताया। रायपुर एयरपोर्ट पर उनके उतरते ही प्रेस क्लब के बाहर काले गुबारे छोड़े गए और भाजपा नेताओं के प्रति विरोध जताया गया।

शुक्रवार को दिन भर हुई बारिश के बाद भी पत्रकारों का हौसला कमजोर नहीं हुआ और वे दिन भर आंदोलन में डटे रहे। आंदोलन में सुकमा और कोंटा के पत्रकार साथी भी शामिल हुए। इसके अलावा दुर्गा महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने भी आंदोलन स्थल पर पहुंचकर पत्रकारों को अपना समर्थन दिया और पत्रकारों के साथ हुई मारपीट की घटना को लेकर कड़ा विरोध जताया। इधर, पत्रकारों ने सुमन पांडेय के समर्थन और भाजपा के विरोध में माथे पर बैंडेड लगाकर विरोध जताया। सुमन पांडेय के माथे पर चोट की जगह पर पत्रकार साथियों ने खुद के माथे पर बैंडेड लगाकर अपना विरोध व्यक्त किया।

प्रेस क्लब के अध्यक्ष दामू आम्बेडरे, महासचिव प्रशांत दुबे उपाध्यक्ष प्रफुल्ल ठाकुर, कोषाध्यक्ष शगुफ्ता शरीन, संयुक्त सचिव गौरव शर्मा एवं अंकिता शर्मा ने कहा पत्रकारों का आंदोलन जन आंदोलन बन चुका है क्योंकि जनता की आवाज उठाने वाले पत्रकार मारे जा रहे हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में आंदोलन राजनीतिक दलों के लिए सिरदर्द साबित हो सकता है।

अमित शाह से करेंगे शिकायत

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह छत्तीसगढ़ दौरे पर आने वाले हैं। इस दौरान पत्रकार उनसे भी मिलने की तैयारी कर रहे हैं। अमित शाह से मिलने के लिए रायपुर प्रेस क्लब के पदाधिकारियों ने समय मांगा है। इस संबंध में उन्हें पत्र लिखा गया है। प्रेस क्लब पदाधिकारियों ने मामले की शिकायत करने प्रधानमंत्री मोदी से भी समय मांगा था, लेकिन पीएमओ की ओर से समय नहीं मिल पाया था। इसलिए पत्रकार श्री शाह से मुलाकात की पूरी कोशिश कर रहे हैं।

***

Be the first to comment

Leave a Reply