अपना मोर्चा. काम के लिये राजकुमार सोनी 

3.01.2019

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मूर्धन्य संपादकों और पत्रकारों को अबुंजा माल स्थित दफ्तर में धन बांटकर उनका वीडियो बनाने वाली कंसोल इंडिया कम्युनिकेशन प्राइवेट लिमिटेड अब भी जनसंपर्क विभाग की सहयोगी संस्था संवाद से मोटा माल हड़पने के फिराक में हैं. इस कंपनी को संवाद ने 15 फरवरी 2017 को प्रदेश के मोबाइल धारकों को बल्क एसएमएस एवं वाइस कॉल की सेवा के लिए अनुबंधित किया था. इसके साथ मुंबई की वीवा कनेक्ट और हैदराबाद की नेट एक्सेल को भी काम दिया गया था. वीवा कनेक्ट और नेट एक्सेल ने भुगतान हासिल कर लिया है. कंसोल इंडिया को कुल पांच करोड़ 85 लाख 23 हजार 906 रुपए का भुगतान दिया जाना था, लेकिन विवाद उठने से पहले यह कंपनी 2 करोड़ 96 लाख 71 हजार 263 रुपए हासिल कर चुकी थीं. इस कंपनी के कर्ताधर्ता अब भी दो करोड़ 88 लाख 52 हजार 643 रुपए के भुगतान की आस लगाए बैठे है. खबर है कि इस कंपनी से जुड़े कुछ लोग पैसा हासिल करने के लिए एक बड़े दलाल मीडियाकर्मी से संपर्क बनाए हुए हैं.

इन कंपनियों ने भी हासिल किया अच्छा-खासा भुगतान

पूर्व मुख्यमंत्री के चेहरे को चमकाने के काम में रायपुर की क्यूब्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड भी लगी हुई थीं. यह कंपनी 10 फरवरी 2017 को अनुबंधित की गई थीं. इस कंपनी को कुल 66 लाख 55 हजार 110 रुपए का भुगतान किया जाना था. कंपनी ने अब तक 38 लाख 64 हजार 410 रुपए का भुगतान हासिल कर लिया है. अब इस कंपनी का 27 लाख 90 हजार 700 रुपए बकाया है. डिजीटल मीडिया एडवाइजर की सेवा के लिए संवाद ने रायपुर के हरप्रीत सिंह ढ़ोढ़ी की सेवाएं भी ली थीं. इन्हें अब तक 27 लाख 96 हजार का भुगतान किया जा चुका है. राज्य सरकार की योजनाओं के वीडियो फिल्मांकन के लिए अहमदाबाद की मूविंग फिक्सल ने भी एक करोड़ 18 लाख का भुगतान ले लिया है. इस कंपनी ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर कुछ काम किया था. इस काम के लिए कंपनी ने 4 करोड़ 94 लाख 32 हजार का बिल प्रस्तुत किया था. कंपनी  को संवाद ने 3 करोड़ 34 लाख, 48 हजार रुपए का भुगतान दे दिया है. अब इस कंपनी के कर्ताधर्ता एक करोड़ 59 लाख 84 हजार हासिल करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं. समाचार चैनलों में सरकार के विज्ञापनों के अवलोकन के लिए एसबी मल्टीमीडिया ने तीन करोड़ 31 लाख 57 हजार 998 रुपए का बिल प्रस्तुत किया था. कंपनी को अब तक  दो करोड़ 58 लाख, 81 हजार रुपए का भुगतान दिया जा चुका है. कंपनी को अब संवाद से 72 लाख 76 हजार 666 रुपए लेना है. संवाद ने इसी कंपनी को सरकारी योजनाओं, शैक्षणिक कार्रक्रमों और युवाओं को मार्गदर्शन देने का काम भी सौंप रखा था. इस काम के लिए कंपनी पांच करोड़ 50 लाख 47 हजार रुपए का भुगतान हासिल कर चुकी है. कंपनी को अब भी एक करोड़ 49 लाख 666 रुपए संवाद से लेना है.

संगीता रसैली को भी भुगतान

संवाद ने 16 मार्च 2017 से सूरजपुर मध्य प्रदेश की श्रीमती संगीता एम रसैली की भी सेवाएं ली थी. संगीता रसैली प्रकाशन एवं साहित्य पर सलाह दिया करती थीं. संवाद ने इन्हें 15 लाख 33 हजार 508 रुपए का भुगतान कर दिया है. भोपाल के सत्येंद्र खरे भी सलाहकार थे. उन्हें अब तक 12 लाख 48 हजार 820 रुपए का भुगतान किया गया है. मुंबई की बैटर कम्युनिकेशन को हर माह 4 लाख 45 हजार रुपए का भुगतान किया जाता था. इस कंपनी ने अब तक 94 लाख 4 हजार रुपए का भुगतान हासिल किया है. विभिन्न विभागों का सोशल मीडिया मैनेंजमेंट देखने के लिए निक्सी को 2 करोड़ पांच लाख 94 हजार 63 रुपए का दिए गए हैं. दिल्ली की यूएनडीपी को एक करोड़ 41 लाख, दस हजार 501 रुपए का भुगतान कर दिया गया है. थ्री डी प्रिटेंड मटेरियल के लिए अनुबंधित मुंबई की मेसर्स टेक्नोविजन प्राइवेट लिमिटेड चार करोड़ 23 लाख 907 रुपए का भुगतान हासिल कर चुकी है. ग्रीन कम्युनिकेशन दिल्ली को 38 लाख 68 हजार, वार रुम स्ट्रेटजी अहमदाबाद को 4 करोड़ 63 लाख 95 हजार 717, एक्सिस माय इंडिया मुंबई को 2 करोड़ 24 लाख पांच हजार 424 रुपए, टच वुड इंटरटेंटमेंट नई दिल्ली 2 करोड़ 13 लाख एक हजार 331 रुपए, व्यापक इंटरप्राइजेस को 6 करोड़ 49 लाख 66 हजार 703 रुपए,  वीडिया वाल मुंबई को एक करोड़ 77 लाख 74 हजार 423, एएस एडवरटाइजर्स को एक करोड़ 80 लाख, 31 हजार 226, विनायक एडवरटाइजर्स एक करोड़ आठ लाख 32 हजार, व्यापक इंटर प्राइजेस ने एक दीगर काम के लिए 23 करोड़ 96 लाख 97 हजार 748 रुपए का भुगतान प्राप्त कर लिया है. संवाद से जुड़े सूत्रों ने बताया कि अभी कुछ अन्य कंपनियों के भुगतान का ब्यौरा आना शेष है.

***