आज़ादी के दौर की पुलिस के सीआईडी विभाग की फाइलें पढ़िएःः हिमांशु कुमार

8.12.2018

आज़ादी के दौर की पुलिस के सीआईडी विभाग की फाइलें पढ़िए

ये फाइलें तीन मूर्ती की लाइब्रेरी में रखी हुई हैं

आशंका है कि कुछ दिनों बाद भाजपा सरकार इन फाइलों को गायब कर देगी

इन फाइलों में राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ के नेताओं की गुप्त मीटिंगों में दिए गये भाषण का विवरण है

राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ के नेता अपनी मीटिंगों में कांग्रेसी नेताओं की हत्या करने, मुसलमानों को पकिस्तान भागने के लिए मुसलमानों पर हमले करने की योजना बना रहे थे

सीआईडी के लोग स्वयम सेवक बन कर इन मीटिंगों में शामिल होते थे

सारी रिपोर्ट गृह मंत्रालय को मिलती थी

जब गांधी जी ने घोषणा करी कि मैं पकिस्तान से आये हुए हिन्दुओं को वापिस पाकिस्तान लेकर बसाने जाऊंगा

और जो मुसलमान भारत छोड़ कर पाकिस्तान चले गये हैं उन्हें वापिस भारत लाऊंगा

उसका बाद इन लोगों ने गांधी जी की हत्या कर दी

राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ ने भारत की सत्ता पर कब्ज़ा करने के लिए मुसलमानों से नफरत की राजनीति करी

आज भारत उस नफरत की राजनीति में फंस गया है

यह नफरत हमें बुरी हालत में ले जायेगी

राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ की इस नफरत की राजनीति से मुसलमानों का कम नुकसान होगा हिन्दुओं का ज़्यादा नुकसान होगा

इस नफरत की राजनीति की वजह से हिन्दू नौजवान मूर्ख और पिछड़ी सोच वाले बन जायेंगे

पहले यह हिन्दू मूर्ख मुसलमानों पर हमले करेंगे उसके बाद दलितों और आदिवासियों को मारेंगे

मैंने देखा है कि जो हिन्दू वीर का टैग लगाये फेसबुक पेज बनाये बैठे हैं और मुसलमानों को गालियाँ लिखते हैं

वही हिन्दू वीर युवा, सोनी सोरी की योनी में पत्थर भरने का समर्थन करने वाले कमेन्ट लिखते हैं और गुजरात में दलितों को बाँध कर पीटने का समर्थन करते हैं और समानता मांगने वाली हिन्दू औरतों को रंडी कहते हैं

आप साफ़ साफ़ समझ लीजिये या तो आप नीचे को गिर सकते हैं या ऊपर को उठ सकते हैं

अगर आप नीचे गिरने का विकल्प चुनते हैं तो मजहबी नफरत जातिवाद औरतों का दमन की नफरत भरी दुनिया में आप का स्वागत करने के लिए राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ बाहें फैलाए खड़ा है

अगर आप जाति मुक्त साम्प्रदायिकता मुक्त स्त्री पुरुष समानता वाला ऊपर उठने का रास्ता चुनते हैं तो आपको अपने परिवार और दोस्तों से ही पहला संघर्ष करना पड़ेगा

जल्दी फैसला कीजिये आपकी बर्बादी की पूरी तैयारी कर ली गई है अब नहीं संभले तो यह लोग आगे का माहौल और भी ज़्यादा बिगाड़ देंगे.

नोटः हिमांशु कुमार की इस पोस्ट को   में प्रकाशित होने से रोक दिया है

Leave a Reply