रायपुर, 9.11.2018

संघर्ष में हमारी साथी और इंडियन सोशल एक्शन फोरम (इन्साफ) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति सदस्य सुश्री एग्नेस खर्शींग और उनकी सहकर्मी पर कोंग ओंग के पास आज दोपहर में जानलेवा हमला किया गया, जो पूर्वी जैनिशिया पहाड़ियों में राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक कोयला खदान का कूड़ा-करकट छेत्र हैं. सुश्री एग्नेस, मेघालिया में पर्यावरण की सुरक्षा, उत्खनन-विरोधी, मानव अधिकारों, महिलाओं और बच्चों के अधिकारों की अग्रणी पंक्ति की मानव अधिकार रक्षक हैं. जानकारी अनुसार उन्हें सर में घातक चोट लगी है, और उनकी दशा काफी गंभीर है. उन्हें शिल्लोंग के नेइग्रिह्म्स में भरती किया गया है.

 

उन्होंने अभी हाल ही में राष्ट्रीय ग्रीन ट्रिब्यूनल द्वारा कोयले के उत्त्खानन पर लागरी गई पाबंदी पर अमल किये जाने पर राज्य सरकार की पूरी नाकामी और असफलता के बारे में मुद्दा उठाया था, साथ ही उन्होंने शिल्लोंग में मविओंग रिम में कोयले से लदे ट्रकों की तसवीरें तक सार्वजनिक की थीं, जिन्हें बाद में पुलिस ने अपने कब्ज़े में लिया था. पिछले समय में भी उन्होंने खासी और जैन्शिया पहाड़ियों में चारों ओर कोयले के अंधाधुन्द उत्त्खानन और उनकी आवा-जाहि के बारे में खुलासा किया था. वे शिक्षा घोटाला माफिया के खिलाफ भी जुझारू जंग छेद रखी है.

 

छत्तीसगढ़ पी.यू.सी.एल. भ्रष्ट कॉर्पोरेट जगत के इन कायराना हमलों की कड़ी निंदा करता है, जो इस जानलेवा हमले में शामिल हैं, और मेघालय सरकार से मांग करता है कि वे दोषी अपराधियों पर त्वरित एवं उचित कानूनी कार्यवाई करते हुए उन्हें हिरासत में लें,और उत्त्खानन और शिक्षा माफिया के धोखा-धडीऔर अपराधिक कृत्यों की त्वरित रोक-थाम के कदम उठाएं.

 

डॉ. लाखन सिंह,.             अधिवक्ता ए पी जोसी
अध्यक्ष                              सचिव

छत्तीसगढ़ लोक स्वातंत्र्य संगठन, (पी.यू.सी.एल.)

Bhagatsingh788@gmail.com / मोबाइल: 0773060946