कल को कोई भी तड़ीपार आठ आने में तीन के हिसाब से देश के साथ आपको भी बेच आएगा !! ; बादल सरोज की वाल से…

28.10.2018

शबरीमलाई
और उसे लेकर आरएसएस की “करें गली में कत्ल-बैठ चौराहे पर रोयें” #नाटिका

#एक ; सुप्रीम कोर्ट कौन गया था ??
आरएसएस के 6 लोग गए थे 2007 में यह मांग करने कि शबरीमलई के अयप्पा मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर रोक हटाई जाए। कौन गया था ?? #आरएसएस !!
#दो ; “वामपंथी” केरल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में क्या कहा था ??
यह कहा था कि कोई निर्णय लेने से पहले हिन्दू धर्म के विशेषज्ञों की समिति बनाकर उनकी सम्मति ले ली जाए !! क्या कहा था ?? यह कहा था कि यह धार्मिक रीति-रिवाज का सवाल है, उस धर्म के जानकारों से पूछ कर उनका मत भी ले लिया जाना उचित होगा ।
#तीन ; “तड़ीपार” की सरकार ने क्या कहा था ?? वही कहा था जो फैसला हुआ !! क्या कहा था ?? पट खोल दो !!
अब तड़ीपार और और आरएसएस केरल में क्या कर रहा है ? वही, जो जिंदगी भर किया ; हिंसा, उत्पात, आगजनी और लूटमार – हिन्दू खतरे में है का शोर !!
भक्तो, इन्फोर्मड सोसायटी, जाग्रत समाज का हिस्सा बनिए ; तथ्यों को जानिये, दिमाग का इस्तेमाल कीजिये। वरना इनके चक्करों में आपके बच्चों का भविष्य बिक चुका, धंधा-व्यापार निबट चुका, बैंकें लुट चुकीं, देश हिन्दू-मुस्लिम,अवर्ण-सवर्ण, बिहार-मुम्बई, यूपी-गुजरात, असम-बंगाल,और गाँव-मोहल्ले ठाकुर-बामन-दलित में बंट चुके ;
कल को कोई भी तड़ीपार आठ आने में तीन के हिसाब से देश के साथ आपको भी बेच आएगा !!
( बादल सरोज की वाल से…)

Leave a Reply