बस्तर में छठी अनुसूची लागू करने होगा आंदोलन

बस्तर में छठी अनुसूची लागू करने होगा आंदोलन









Posted:2015-04-29 23:54:52 IST   Updated: 2015-04-29 23:54:52 ISTjagdalpur: Sixth Schedule shall apply for will be agitation

मोदी सरकार के भूमि अधिग्रहण बिल के विरोध में अखिल भारतीय आदिवासी महासभा सड़क पर आ रही है। सीपीआई के पूर्व विधायक मनीष कुंजाम चार सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन का एेलान कर चुके हैं।
जगदलपुर. मोदी सरकार के भूमि अधिग्रहण बिल के विरोध में अखिल भारतीय आदिवासी महासभा सड़क पर आ रही है। सीपीआई के पूर्व विधायक मनीष कुंजाम चार सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन का एेलान कर चुके हैं। मंगलवार को� पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा भूमि अधिग्रहण अध्यादेश� वापस लेने के साथ ही बस्तर में संविधान की छठी अनुसूची लागू करने को लेकर 5 से 14 मई तक पद यात्रा की जाएगी।
अखिल भारतीय आदिवासी महासभा� ने भरी हुंकार
इन दो विशेष मांगों के साथ बस्तर की मूल जातियों माहरा, तेलगा, राउत, धाकड़, कलार, लोहार, कम्हार, कुड़क, सुंडी व बंजारा को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने की मांग भी की जाएगी। पोलावारम बांध का भी पद यात्रा कर विरोध करेंगे। दंतेवाड़ा के समलवर से तैयारी : पांच मई से दंतेवाड़ा के समलवर गांव से पदयात्रा शुरू होगी। सैकड़ों गांव में छोटी सभाओं के साथ काफिला 14 मई को संभागीय मुख्यालय पहुंचेगा।

Leave a Reply

You may have missed