दो पत्रकारों ने छत्तीसगढ़ को हिलाया….

14.40.2018

रायपुर / यूं तो छत्तीसगढ़ में सरकार लिखने-पढ़ने वालों पर कड़ी निगरानी रखती है। उन्हें तरह- तरह से प्रताड़ित करती हैं तथापि दो पत्रकारों ने अपने तरीके से छत्तीसगढ़ को थोड़ा झकझोर दिया है।

पत्रकार राजकुमार सोनी के ओ चाऊंर वाले बाबा…. मां ने मुझको बताया था…. पन्द्रह लाख आएगा और छत्तीसगढ़ को बेच रहे हो… जैसे गानों ने जहां छत्तीसगढ़ की राजनीतिक फिजा पर गहरा असर डाला है वहीं वरिष्ठ पत्रकार रुचिर गर्ग के राजनीति में आने से हलचल मच गई है। वैसे यह सोचने वाली बात है कि एक पत्रकार को गाना गाकर अपनी असहमति क्यों दर्ज करनी पड़ी? और दूसरे पत्रकार को राजनीति में क्यों आना पड़ा? जाहिर सी बात है कि छत्तीसगढ़ में भीतर ही भीतर कुछ सड़ रहा है। यकीनन मौजूदा तंत्र से हर कोई खफा है और बदलाव चाहता है, पत्रकार भी उनमें से एक है।

**

CG Basket

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नौकरी में आजादी तलाशते अख़बारनवीश ःः राजनैतिक गलियारों में दो पत्रकार # उत्तम कुमार, सम्पादक दक्षिण कोसल

Sun Oct 14 , 2018
Share on Facebook Tweet it Share on Google Pin it Share it Email 14.10.2018 छत्तीसगढ़ में दो अख़बारनवीश सुर्खियों में […]