राजनांदगांव : प्रदेश स्तरीय किसान महापंचायत  शुरू .हो सकते है महत्वपूर्ण निर्णय .

1.10.2018/राजनांदगांव

प्रदेश के किसान एक बार फिर आज   राजनांदगांव  के कलेक्टर कार्यालय के सामने हजारों की संख्या में एकत्रित हो गये  है.बार बार किसान आंदोलन और उनकी पद यात्रा को अलोकतांत्रिक तथा पुलिस के दमन प्रताड़ना के बाद छतीसगढ हाई कोर्ट के सार्थक हस्तक्षेप के बाद किसान उत्साहित है ,कोर्ट ने कहा कि किसी को आंदोलन करने से रोका नहीं जा सकता .

बीमा ,बोनस ऋण माफी एवं वनाधिकार की मांग को लेकर किसान संकल्प यात्रा को बार बार दमन पूर्वक रोके जाने के मुद्दे पर इस महापंचायत का आयोजन कलेक्टर राजनांदगांव के सामने किया जा रहा  हैं .

रमन और मोदी सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में आज राजनांदगाँव में जिला किसान संघ के बैनर तले किसान महापंचायत का आयोजन किया गया जिसमें जिले के हजारों किसानों सहित अन्य जिलों के किसान संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हुए । पांचो वर्ष 500 रुपये धान का बोनस , लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य , कर्जमाफी आदि मांगो पर राजनांदगाँव से रायपुर तक किसान संकल्प यात्रा को राज्य सरकार ने पुनः दूसरी बार रोक कर किसानों की गिरफ्तारी की थी। आज राज्य सरकार पर समस्त वादों और दमन के खिलाफ किसान महापंचायत आयोजित की गई।

किसान महापंचायत में अपनी मांगो और सरकार द्वारा शांतिपूर्वक आंदोलन को दमन पूर्वक दबाये जाने के तथ्य प्रस्तुत  किये जा रहे है..यहीँ अपना पक्ष रखने के लिये मुख्यमंत्री को भी अवसर दिया गया था ,लेकिन न तो मुख्यमंत्री आये और न अपना कोई प्रतिनिधि भेजा.

आज की महापंचायत में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये जाने की संभावना है ।
**

Leave a Reply