रायगढ : शिल्पी ग्राम एकताल के झारा समुदाय से 65 लोगों को बंधक बनाया तेलंगाना में.ग्रामीणों ने कलेक्टर से छुडाने की मांग . : प्रशासन से कहा करें तुरंत कार्यवाही .

 

रायगढ  : 28.09.2018

**
रायगढ में एकताल ग्राम का नाम बेल मैटल की मूर्तियां बनाने के लिये सारे देश में जाना जाता हैं . बस्तर के अलावा यही वह गांव है जहाँ के शिल्प के लिये राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मान प्राप्त झारा समुदाय के लोग निवास करते है .

आज इसी एकताल के ग्रामीण कलेक्टर के पास सामाजिक कार्यकर्ता डिग्री प्रसाद चौहान  और अजय टीजी  गुहार लेके गये ,कि उनके गांव के साठ महिला पुरूष और बच्चों को शिल्प के काम के बहाने तेलंगाना के पेदापल्ली, राधापुर, राम कुंडम के ईंट भट्ठा में काम कराया जा रहा हैं .
इन ग्रामीणों को मुरली , शैल ,राजकुमार जो उडीसा के रहने वाले है और गांव के लोगों को अच्छी तरह से जानते भी है ,जिनमें मुरली कि फोन नंबर भी कलेक्टर को दिया गया हैं ,इन मानव तस्करों ने शिल्पीयों से यह कहा था कि बाहर बेल मैटल की मूर्तियों के बनाने का बडा काम हैं ,इसके लिये अच्छा फेमेंट भी मिलेगा .

आवेदन में लिखा गया हैं कि यह दलाल अपने.वाहन में बिठा कर ले गया और रायगढ से ट्रेन में बिठाकर किसी अज्ञात स्थान पर ले गया ,उनमे से किसी व्यक्ति ने दो तीन दिन बाद छिपकर यह खबर भेजी कि यह लोग पूछने पर भी नहीं बता रहे है कि ग्रामीणों को कहां ले जा रहे है,यह भी कहा गया कि चुपचाप हमारे साथ चलो नहीं तो तुम लोगों का बहुत बुरा होगा.
बाद में मालुम हुआ कि इन सब लोगों को ईंट भट्ठा में जबर्दस्ती काम कराया जा रहा हैं और बंधक बना लिया हैं .उन्हीं लोगो ने फोन पर बताया कि महिलाओं को प्रताड़ित किया जा रहा है और पुरूषों के साथ मारपीट की गई तथा बच्चों को मां से दूर कर दिया गया .न पैसा मिल रहा है और न पर्याप्त भोजन .बंधक बनाये गये लोगों के फोन छीन लिये गये .इन सभी लोगों के हालात बहुत बुरे हैं .
यह दलालों राजनीतिक रसूख वाला हैं .

ग्रामीणों के साथ डिग्री प्रसाद चौहान ने बताया कि वे सभी एस पी और कलेक्टर की अनुपस्थिति में एडीशनल कलेक्टर से मिले और बंधको को रेस्क्यू करवाने के लिये आवेदन दिया जिसमे अनुरोध किया गया है कि इन सभी लोगों की जान खतरे में हैं ,इन लोगों के साथ मारपीट और अत्याचार किया जा रहा है .किसी विशेष टीम को भेजकर इन परिवारों को सकुशल गांव वापस लाया जाये .
प्रशासन ने आश्वासन दिया है कि वे तुरंत कार्यवाही करेंगें.

**

Leave a Reply