नुकलातोंग मुठभेड़ : इस विड़ियो को जरूर देखिए, आपको आधी  सच्चाई पता चल जाएगी। पूरा सच आना बाकी है. : लिंगा राम कोडपी .

 

12.08.2018

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=2172961106293815&id=100007398394403

 

भारत देश के नागरिकों को लगा कि छत्तीसगढ़ राज्य, के सुकमा जिला, ग्राम पंचायत मेहता के नुलकातोग गाँव में जो नक्सल – पुलिस मुठभेड़ हुई है, घटना सच है । भारत कि आबादी देखी जाए तो 120 करोड़ है । हमारे देश में प्रगतिशील बुध्दीजिवी वर्ग, मजदूर , लेखक, सामाजिक संगठन, छात्र, भारत के आम नागरिक ।

कहने को तो नक्सली मुठभेड़ लेकिन मरने वाले आदीवासी, जिस जगह पे सुकमा पुलिस नक्सली मुठभेड़ बता रही हैं जगह देख कर लगता नहीं की हकिकत में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई होगी । पुलिस का यह दावा करना कि नक्सली केम्फ द्वस्त किया है, यह दावा भी झुठानजर आता दिखाई दे रहा हैं । क्यों की D.R.G. के एक भी जवान को खरोच तक नहीं आई । यह कैसा मुठभेड़ हैं ?
जिला सुकमा कि पुलिस ने जो विड़ियों नेट के जरिये से वायरल किया हैं, वह विड़ियों में तीन मृत शरीर दिखा रहे हैं । उस विड़ियों में साफ नजर आ रहा हैं, कि मु्र्दा शरीर जमीन में पड़ा हुआँ है, बंदूके मृत शरीर के बगल में रखे हुए हैं । नक्सली केम्फ किसी किसान के खेत में क्यों होता, नक्सली इतने मुर्ख तो नही हैं,
कि किसी किसान के खेत में अपना केम्फ डाल कर रखेगे । नक्सली होते तो पहाड़ के ऊपर केम्फ होता । मैदान मे केम्फ क्यों बनाते ?

अभी जाँच पूर्ण नहीं हैं । पूरी सच्चाई जब चारों गाँवो के लोग सामने आयेगे तब पता लग जाएगा । राष्ट्रीय पंत्रकारो को घटना की मुआयना करने क्यों नही दिया जा रहा हैं । अगर पुलिस प्रशासन सच्चाई के रास्ते पर हैं तो पंत्रकारो को रोकना नहीं चाहिए लेकिन सुकमा पुलिस रोक रही हैं ।

देश के राजनैतिक दल अगर यह सोचते है कि वे नागरिक राष्ट्रवाद को देश में कायम रखेगे तो भारत देश के सभी राजनैतिक दलो, सामाजिक संगठनो, प्रगतिशील बुध्दीजिवी वर्गो, छात्र संगठनो, को इस घटना की जाँच करनी चाहिए । देश के तमाम संगठनो ने एेसा नहीं किया तो बहुत जल्द भारत देश में B.J.P सरकार और R.S.S. देश से देश कि प्रगती, देश कि निष्ठा, आदर्श ,नियमों, सिध्दांतो को समाप्त कर देगी।भारत देश में नागरिको के अधिकारो की कृप्या रक्षा किजिए । मुझे अपने देश के प्रति जो कर्तव्यों की रक्षा करनी है करने की कोशिश कर रहा हूँ, आप सब कब करेगें?

**

Leave a Reply