छतीसगढ आप बहुत नाराज ःः 29 जुलाई को मुख्यमंत्री निवास का घेराव , उपवास ,रैली और अन्य आयोजन .

दमन हटाओ, छत्तीसगढ़ बचाओ’ आंदोलन का आगाज 1 जुलाई से

रायपुर से दिल्ली तक सुनी जाएगी आंदोलन की गूंज

आम आदमी पार्टी (आप) की छत्तीसगढ़ इकाई ने समूचे राज्य के संपूर्ण समाज को जोड़ते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री रमन सिंह, जिनका ‘दमन’ अब चरम पर आ चुका है, के प्रशासन को राज्य से आमूल उखाड़ फेंकने की जंग शुरू कर दी है। प्रदेश संयोजक डॉ संकेत ठाकुर ने कहा कि इस सरकार के कुशासन से न सिर्फ आम आदमी कराह रहा है, ​बल्कि सरकार के विभिन्न विभागों में अपनी सेवाएं देने वाले कर्मचारियों को भी तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यहां तक कि पुलिसकर्मियों के परिजनों को राजधानी की सड़कों पर उतरकर सरकार को अपनी समस्याओं का ध्यान दिलाना पड़ रहा है। शिक्षाकर्मियों, नर्सों, आदिवासियों, किसानों की तो बात ही क्या है, राज्य में विधायक भी महफूज नहीं रह गए हैं। दमनकारियों के सामने ‘आप’ अपने घुटने नहीं टेकेगी। पूरे राज्य में इस दमनकारी सत्ता के विरोध में तीव्र आंदोलन छेड़ा जाएगा।

मशहूर कृषि वैज्ञानिक डॉ. ठाकुर ने अपने आंदोलन की रूपरेखा की जानकारी देते हुए बताया, ‘राज्य की इस दमन सरकार के खिलाफ 1 जुलाई से समूचे प्रदेश में ‘दमन हटाओ, छत्तीसगढ़ बचाओ’ आंदोलन छेड़ा जाएगा। 2 जुलाई को दमन सरकार की कुनीतियों के खिलाफ राजधानी रायपुर में एक दिवसीय उपवास रखा जाएगा। इस उपवास में दिल्ली सरकार के मुख्य सलाहकार एवम प्रदेश चुनाव समन्वय प्रभारी श्री राकेश सिन्हा तथा दिल्ली में प्रचंड बहुमत से सत्तासीन आप के विधायक भी अपनी मौजूदगी दर्ज करवाएंगे।’ निश्चित रूप से ‘आप’ की मंशा यह है कि छत्तीसगढ़ से उठने वाली भाजपा विरोधी आवाज सीधी नई दिल्ली तक पहुंचे।

1 जुलाई को आंदोलन के आगाज के मौके पर राज्य के सभी प्रमुख स्थानों पर पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मेलन होगा और इन सम्मेलनों के बाद नजदीकी चौराहों पर ‘दमन सिंह’ के पुतले जलाए जाएंगे।

आंदोलन के दूसरे दिन, यानी 2 जुलाई को विधानसभा का मॉनसून सत्र प्रारंभ होने वाला है। इस दिन सभी विधानसभा मुख्यालयों पर एक दिवसीय उपवास रखकर छत्तीसगढ़ में ‘दमन आतंक’ को खत्म करने की राज्यव्यापी जंग छेड़ी जाएगी। इस आंदोलन का समापन 29 जुलाई को होगा। इस दिन ‘आप’ के हजारों कार्यकर्ता राजधानी रायपुर में एकत्रित होकर मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे।

डॉ. ठाकुर ने बताया कि इस समूचे आंदोलन के दौरान मौजूदा सरकार के खिलाफ राज्य के सभी क्षेत्रों और वर्गों की शिकायतों को पूरी गंभीरता के साथ आम जनता की अदालत में रखा जाएगा। डॉ. ठाकुर ने कहा कि एक महीना व्यापी ‘दमन हटाओ, छत्तीसगढ़ बचाओ’ आंदोलन के दौरान ‘आप’ सभी शोषित प्रताड़ित वर्गों की आवाज बनकर उभरेगी।

***

Leave a Reply

You may have missed