दलित नेता एवं विधायक जिग्नेश मेवानी से गुजरात पुलिस ने की बदसलूकी, किया गिरफ्तार

18.02.2018

अहमदाबाद 

रविवार को गुजरात पुलिस ने दलित नेता और बडगाम विधायक जिग्नेश मेवानी को अहमदावाद में एक विरोध प्रदर्शन में जाते हुए गिरफ्तार कर लिया है, बता दें की 15 फरबरी को दलित आन्दोलनकारी और किसान नेता भानु वेनकर ने जिलाधिकारी ऑफिस के सामने आत्मदाह कर लिया था जिनकी मौत 16 तारीख को अस्पताल में मौत हो गयी|

गुजरात पुलिस का कहना है की कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए पुलिस ने जिग्नेश मेवानी को गिरफ्तार किया है और उन्हें सुरक्षित जगह पर रखा गया है|

वही दूसरी ओर जिग्नेश मेवानी का कहना है की गुजरात पुलिस ने उनके साथ बदसलूकी की उन्हें जबरदस्ती बुरे तरीके से खीच कर कार से बाहर निकालने की कोशिश भी की जिसके दौरान उनके गाडी की चाभी टूट गयी|

जिग्नेश ने अपने ट्वीटर से कहा की जिग्नेश मेवानी और उनके साथियों को कार से निकाल के, कार की चाबी तोड़ के गलत तरीके से अज्ञात लोगो द्वारा कोई अज्ञात जगह पर ले गए है l

राज्य सरकार ने मामले की गंभीरता को देखते हुए गांधीनगर में रैपिड एक्शन फ़ोर्स को तैनात कर दिया है जहाँ के सदर अस्पताल में भानु वेनकर के मृत शरीर को रखा गया है|

बता दें की भानु वेनकर के मौत के बाद जब परिवार वालों ने अंतिम संस्कार करने से मन कर दिया उसके बाद राज्य सरकार ने उनकी सभी मांगें मान ली थी|शनिवार को उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने प्रेस कांफ्रेंस कर के बताया की मुख्या मुद्दा जो की भूमि अधिग्रहण का था उसे मान लिया गया है और इसके साथ ही सरकार जाँच के लिए SIT का गठन भी करेगी और दोषियों के ऊपर सख्त कार्यवाही होगी|

बता दें की आत्मदाह से एक सप्ताह पहले भानु वेनकर ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौपते हुए कहा था की अगर भूमि अधिग्रहण का मामला ठीक न किया गया तो वो आत्मदाह करेंगे, जिसके बाद जिलाधिकारी कार्यालय में भाडी पुलिस बल की तैनाती की गयी, इसके बावजूद भानु वेनकर खुद को आग लगा लिया बाद में उनकी मौत हो गयी|

**

Leave a Reply