कॉमरेड मोहम्मद अमीन / गैर सरकारी काम से आए इसलिए कोई सरकारी सुविधाएं नहीं लेंगे, : बिलासपुर यात्रा को ऐसे याद किया .

 

/ फोटो में मोहम्मद अमीन और एस एफ आई के तत्कालीन अध्यक्ष शैलेन्द्र शैली और महासचिव नंद कशयप / फोटो उपलब्ध कराया गणेश तिवारी ने /

13.02.2018

Bilaspur 

नन्द कश्यप 

**

दिसंबर 1980 सुबह 8 बजे, स्थान बिलासपुर रेलवे स्टेशन मौका SFI मध्यप्रदेश राज्य सम्मेलन , पश्चिम बंगाल के परिवहन मंत्री कामरेड मोहम्मद अमीन हावड़ा बांबे मेल से उतरे , परंतु गाड़ी लगभग पांच मिनट पहले पहुंची थी और उनको लेने गए हम लोगों को वे एसी फर्स्ट क्लास के डब्बे में नहीं मिले, ठीक उसी समय उन्हें खोजते हुए राज्य सरकार के प्रोटोकॉल अधिकारी आ गए , टी टी आई का चार्ट देखा उसमें उनका नाम है,सभी उन्हें खोजने में लगे थे, प्रोटोकाल के लोग कलकत्ता संपर्क में जुट गए,हम लोग यह सोच कि मंत्री हैं किसी जरूरी काम से रुक गए होंगे सोच चुपचाप सम्मेलन स्थल पर चले, वहां देखते हैं कि कामरेड आमीन एक टेबल पर बैठे हैं ( कुर्सियां लगाने से पहले हाल की सफाई चल रही थी) ठीक उसी समय प्रोटोकाल के लोग यह कहते हमारे पास आए कि मंत्री जी कलकत्ता से चले हैं और यह उन लोगों की नौकरी का सवाल बन गया है, कामरेड अमीन ने उन्हें आश्वस्त किया कि इसमें उनकी कोई गलती नहीं है,वे रेल से उतर रिक्शा लेकर सीधे सम्मेलन स्थल आ गए,यह सोच कर कि एस एफ आई का सम्मेलन है, उन्हें कष्ट क्यों दें, और गैर सरकारी काम से आए इसलिए कोई सरकारी सुविधाएं नहीं लेंगे,

तो ऐसे सीधे सरल एक अच्छे शायर साथी को क्रांतिकारी सलाम , कामरेड अमीन के आदर्श हमें प्रेरणा देते रहेंगे

**

Leave a Reply