सुपेबेडा में प्रदूषित पानी से ग्रामीणों की मौत का सिलसिला 2005 से जारी : उच्च स्तरीय जांच की मांग : आम आदमी पार्टी छतीसगढ़

 

29.01.2018

आज आम आदमी पार्टी नेे गरियाबंद जिले के सुपेबेडा गांव के किडनी प्रभावित 6 मरीजों और मृतकों के 2 विधवाओं के साथ प्रदेश कार्यालय में पत्र वार्ता कर वस्तुस्थिति से अवगत कराया ।
पार्टी ने हीरा और एलेक्जेंडराइट खदानों से भरपूर ग्राम सुपाबेडा के ग्रामीणों को वहां से विस्थापित करने का इसे अंतराष्ट्रीय षड्यंत्र बताया ।
यह सिर्फ संयोग मात्र नहीं है कि अवैध उत्खनन के बाद से ही पानी प्रदूषित हुआ हो । अब तक 109 मौतें हो चुकी हैं और 235 लोग अभी भी किडनी रोग से ग्रस्त पाये गए है । इसके बावजूद अभी भी ग्रामीणों को स्वच्छ पेय जल उपलब्ध नही कराया गया है ।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक डॉ संकेत ठाकुर, पूर्व सीबीआई मजिस्ट्रेट प्रभाकर ग्वाल, महासमुंद लोकसभा अध्यक्ष संतोष चंद्राकर, शकील खान, श्रवण साहू, नोहर साहू आदि ने आज पत्र वार्ता के माध्यम से प्रभावित ग्रामीणों के मृतक परिवारों को बीस-बीस लाख रुपये का मुआवजा, रोजगार, निशुल्क चिकित्सा सहायता, और संपूर्ण प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है ।
आज शाम 4 बजे आम आदमी पार्टी ने प्रभावितों के साथ मिलकर राज्यपाल को राष्ट्रपति के नाम से ज्ञापन सौंपा ।

Leave a Reply

You may have missed