प्रेम चंद अध्यन केंद्र में छतीसगढ़ विज्ञान सभा का आयोजन ,चाँद ,चाँद के गड्ढे ,अंतरिक्ष और वैज्ञानिक चेतना की हुई बात .: बंधवापारा बिलासपुर .

?

23 जनवरी 2018 ,बिलासपुर

आज इसी वक्त बंधवापारा सरकंडा बिलासपुर में प्रेमचंद अध्ययन केंद्र के बच्चों के बीच छत्तीसगढ़ विज्ञान सभा के अध्यक्ष विश्वास मेश्राम ने बच्चों से अंधविश्वास के खिलाफ बातचीत किया और फिर टेलिस्कोप से चांद के गढ्ढे दिखलाया.

अज्ञानता से अंधविश्वास पनपता है,
इसिलए बच्चों में वैज्ञानिक चेतना जागरूक करने के उद्द्येश्य से आज छतीसगढ़ विज्ञान सभा’ से विश्वास मेश्राम नही बच्चों के लिये आसमान दर्शन और चंन्द्रमा की कलाऔं से रूबरू करने हेतु बिलासपुर के बंधवापारा बस्ती ,सरकंडा में मुंशी प्रेमचंद बाल पाठक संघ के लगभग 45 बच्चो के बीच जाकर जागरूकता कार्यक्रम रखा गया.
बच्चे बेहद उत्साहित थे उन्होंने तरह तरह की जिज्ञासाएं प्रकट की जिनका सिलसिले वार जबाब जन विज्ञान के क्षेत्र में वर्षोँ से काम कर रहे विश्वास मेश्राम ने दिये .

टेलिस्कोप के माध्यम से चंद्रमा को दर्शाया गया, उसके बारे में जानकारी दी गई और “ग्रहण” के भी वैज्ञानिक कारण को समझाया गया।
नन्द कश्यप ने वैज्ञानिक चेतना को व्यवहारिक ज्ञान से जोड़ते हुये अपनी बात रखी अन्य साथीगण के तौर पर अनुज श्रीवास्तव, विजय शंकर पात्रे, मधु शर्मा, राहुल ने भी सक्रिय भूमिका से आयोजन को सफल किया . उपस्थित रहे.
इस अवसर पर विज्ञान सभा के सदस्य गण नंद कश्यप,विजय शंकर पात्रे प्रियंका शुक्ला अनुज श्रीवास्तव और नीलोत्पल शुक्ल मौजूद रहे.

 


**

Leave a Reply