पत्रकार तो पत्रकार होता हैं , उसे आदिवासी गैर आदिवासी में कैसे बांटा जा सकता है : आपकी आपत्ति सरमाथे .

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

**
16.01.2018

आज मेरे मित्र ने फोन किया की उनके किन्ही पत्रकार मित्र ने सीजी बास्केट की एक पोस्ट पर आपत्ति की जिसमे लिंगराम कोडपी को आदिवासी पत्रकार लिखा गया हैं, उन्होंने कहा कि पत्रकार तो पत्रकार होता है उन्हें खानों मे बांटना उचित नहीं हैं.
मुझे लगा बात सोलह आने सही हैं .और मेनें उस पोस्ट को सुधार तो दिया ही ,भविष्य में यह न हो पाये इसका खयाल भी रखेंगे ही.
इसका अपना कोई स्पष्टीकरण नहीं है जो गलत हैं वो गलत ही कहा जायेगा.
बस इतनी खुशी है कि कोई तो लोग हैं जो सीजी बास्केट को गम्भीरता से पढ़ते ह्
हैं .
बहुत बहुत बहुत आभार उन मित्र का जिन्होंने टिप्पणी को और इन मित्र का जिन्होंने मुझ तक कनवे किया .

सीजी बास्केट समूह

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

CG Basket

Next Post

नामदेव ढसाल के स्मृति दिवस पर: दिशा पिंकी शेख.: प्रस्तुती एवं अनुवाद हेमलता महिश्वर

Tue Jan 16 , 2018
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.16.01.2018 तिनके जैसा  जीवन  लेकर जब मैं खड़ी थी लोकतंत्र से मिलवानेवाली लालबत्ती वाली गली में और रूपए दो रूपयों में जब मैं अपनी चमड़ी बेच रही थी यह उस वक़्त की बात है… अस्तित्वहीन जीवन लेकर जब लिपस्टिक लगाकर ख़ाली पेट […]

Breaking News