14 पत्रकारों को पिछले डेढ़ साल में पुलिस ने किया है गिरफ्तार ! सबसे ज्यादा बस्तर में हुई गिरफ्तारी

रायपुर 21 नवंबर 2017।

छत्तीसगढ़ में पिछले डेढ सालों में पत्रकारों पर छत्तीसगढ़ की पुलिस ने खूब कार्रवाई की है। विधानसभा में जानकारी दी गयी है कि 14 पत्रकारों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव की तरफ से पूछे गये सवाल का लिखित जवाब देते हुए गृहमंत्री रामसेवक पैकरा ने पूरी सूची उपलब्ध करायी है। उसमें सीडी मामले में गिरफ्तार विनोद वर्मा का भी नाम है । सूची में 5 मई 2016 को ईटीव्ही के पत्रकार विनोद कुमार को दुर्ग में भादवि की धारा 505,34 के तहत गिरफ्तार किया गया, दुर्ग के ही इटीव्ही के पत्रकार नरेंद्र कुमार को 506,34 के तहत उसी दिन गिरफ्तार किया गया। रायपुर में प्रवीण सोनी को 23 मई को भादवि 507 के तहत गिरफ्तार किया गया, रायपुर के पत्रकार विनोद वर्मा को दिल्ली से 26 अक्टूबर को 340, 384, 506 के तहत गिरफ्तार किया गया। कोंडागांव से राष्ट्रीय हिंदी मेल के पत्रकार सुरेश पटले को 28 फरवरी 2017 को भादवि के धारा 420 के तहत गिरफ्तार किया गया। कोंडागांव से ही प्रखर समाचार के सुनील कुमार को 294, 506, 323 भादवि के तहत गिरफ्तार किया गया। कोंडागांव में सीजी 24 के पत्रकार विश्वजीत मलिक को 23 अप्रैल को 498-ए-34 के तहत गिरफ्तार किया गया। पत्रिका अखबार के प्रवेश गोयल को 15 अगस्त को 294, 506, 186, 34 के तहत गिरफ्तार किया गया। कोरिया से 3 जनवरी को राजन सिंह चौहान ईएनआई चैनल के पत्रकार को 294, 506, 323, 342, 365, 419, 468, 471, 120 के तहत गिरफ्तार किया गया। सुकमा के नवभारत अखबार के पत्रकार शेख सलीम को 376, 506 के तहत 26 जुलाई को गिरफ्तार किया गया। मुंगेली के नव प्रदेश के पत्रकार रनेश दुबे को 5 अक्टूबर को आईटी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया। गरियाबंद जिले के भाष्कर अखबार के पत्रकार गुरूनारायण तिवारी के एससी एसटी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया। बिलासपुर के सहारा समय के पत्रकार अभिषेक गुप्ता को धारा 384 के तहत गिरफ्तार किया गया.. जबकि कांकेर के नवप्रदेश अखबार के पत्रकार हबीब राज को 28 नवंबर को धारा 509 के तहत गिरफ्तार किया गया।
**

Leave a Reply

You may have missed