धान काटते पकड ले गई पुलिस ,आदिवासी महिला पाली जुलाई से अभी तक दंतेवाड़ा थाना कोतवाली मैं है : इस महिला की मदद कीजिए , न कोर्ट मे आज तक पेश और न घर जाने दिया गया :, लिंगा राम कोडपी

दंतेवाड़ा से लिंगराम कोडपी की पोस्ट
8.12.2017

यह सच्ची घटना हैं।पाली खुहडाम पिता पोदया 31 वर्ष,तहसील ओरछा, जिला नारायणपुर, ग्राम पंचायत डुंगा पारा बेडमा की मूल निवासी हैं। इस महिला को 4/7/2017 सोमवार को सुबह 11 बजे अपनेगृह ग्राम में धान काट रही थी। तबी गांव के लोगों को पकड़ कर पुलिस पूछी की पाली खुहड़म कहां हैं? गांव के लोगों ने बता दिया फिर पाली को पुलिस ने पकड़ लिया और थाना लेकर आ गए। पाली के परिजन पुलिस का पीछा करते हुए जिला दंतेवाड़ा पहुंचे। किसी ने बता दिया की सोनी सोरी आप लोगों की मदद कर सकती हैं। पाली के साथ गांव के और तीन लोगों को भी पकड़े थे उन्हें छोड़ दिया गया है।

पाली अभी भी दंतेवाड़ा थाना कोतवाली में हैं। यह वहीं थाना हैं जहाँ सोनी सोरी का प्रताड़ना हुआ था, और गुप्तागों में पत्थर भर दिए थे। पुलिस प्रसाशन का कहना है कि पाली नक्सली संगठन के सचिव गणेश उयके की गनमैन थी| अगर पुलिस पाली को गणेश उयके की गनमैन बता रही हैं तो पाली तो गाँव मे धन काट रही थी। फिर गणेश उयके कहा है? पुलिस प्रसाशन के ऊपर कई सवाल खड़े होते हैं? एक आदिवासी महिला को नक्सल के नाम पर पुलिस ने थाना कोतवाली दंतेवाड़ा में कैसे रखे वो भी चार दिन? आज तक कोर्ट में भी पेश नहीं किया गया? इस महिला के साथ यौन शोषण भी हो सकता हैं? क्या दन्तेवाड़ा पुलिस प्रशासन को ये नहीं पता की एक महिला को चार दिन से थाना कोतवाली में नहीं रख सकते। छत्तीसगढ़ राज्य की महिला आयोग और केन्द्र की महिला आयोग कहा हैं? वाह रे सरकार सरकार की जय हो ।

इस महिला की मदद के लिये आप जिले के S . P . को फोन कर सकते हैं। नंबर 09479194300, कृपया आदिवासी महीला की मदद हो जायेगी। इस महिला ने अगर अपराध किया हैं तो जेल भेज दे थाना में रखने का क्या मतलब है। फेसबुक चलाने वाले सभी लोगों से मेरा अपील है की मदद के लिए फोन करे और पुलिस प्रशासन से पूछे कि पाली को महिला जेल क्यों नहीं भेजा गया? आज तक कोर्ट में भी पेश नहीं किया गया। न्याय की आशा में पाली के परिजन सोनी सोरी के घर आये हुए हैं। आशा आप सब से भी हैं, क्रप्या फ़ोन कीजिये ताकी आदिवासी महिला की इज्ज़त बच जाए।

लिंगा कोड़ोपी

Leave a Reply