24.11.2017

आम आदमी पार्टी ने शिक्षाकर्मियों के आंदोलन को अपना पूर्ण समर्थन देने के अपने वादे को निभाते हुए प्रदेश के अनेक जिलों में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता आंदोलनरत शिक्षाकर्मियों से मिल रहे हैं और उनके आंदोलन में सहभागिता निभा रहे है।

यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार शिक्षाकर्मियों को पिछले 5 वर्षों से झूठे वादे करके उनके भविष्य को अंधकार में कर चुकी है और अब जब शिक्षक अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर अपनी मांग रखने की बात कह रहे है तो उन्हें बर्खास्त किया जा रहा है और बड़ी तादाद में बर्खास्त करने की धमकी दी जा रही है ।

आम आदमी पार्टी इस प्रकार भाजपा सरकार द्वारा शिक्षा के साथ किए जा रहे खिलवाड़ की कड़े शब्दों में निंदा करती है ।शिक्षाकर्मी यदि अपने मांग को लेकर हड़ताल ही करते रहेंगे तो शिक्षा का स्तर कैसे सुधरेगा और ये बच्चों के भविष्य के साथ सीधा खिलवाड़ होगा,जिसकी जिम्मेदार सिर्फ प्रदेश की भाजपा सरकार होगी।

प्रदेश संयोजक संकेत ठाकुर ने समर्थन में आम आदमी पार्टी का अपना संकल्प दोहराया है कि जिस तरह दिल्ली में अतिथि शिक्षकों को नियमित किया गया और उनकी तनख्वाह दोगुनी तक बढ़ाई गई उसी तरह छत्तीसगढ़ के शिक्षकों को आम आदमी पार्टी की सरकार बनने पर नियमित करेगी व और भी सुविधाओं को उपलब्ध करवायेगी जो शिक्षा के क्षेत्र में पूर्ण विकास ला सके।

***