बेहद शर्मनाक घटना : कलेक्टर दुर्ग ने बाल दिवस कर्यक्रम में जवाहरलाल नेहरू की तस्वीर को मंच से हटाया : भाजपा के अनुकूल बनने की होड़ .

बेहद शर्मनाक घटना : कलेक्टर दुर्ग ने बाल दिवस कर्यक्रम में जवाहरलाल नेहरू की तस्वीर को मंच से हटाया : भाजपा के अनुकूल बनने की होड़ .

18.11.2017
**
दुर्ग / छत्तीसगढ़ मैं बहुत शर्मनाक वाकया सामने आया .कुछ हुआ यों कि 14 नवंबर 2017 दुर्ग के पंडित रवीशंकर शुक्ल स्टेडियम में जिला प्रशाशन पण्डित जवाहर लाल नेहरु के जन्म दिन बाल दिवस मनाने का भव्य कार्यक्रम आयोजित कर रहा था ,जिसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री भी आ रहे थे और वे आये भी .
अब सुनिये असली कहानी ,दुर्ग के कलेक्टर उमेश अग्रवाल और एसडीएम संजय अग्रवाल अपनी भाजपा और संघ से नजदीक दिखने के  लिये समय का सदुपुुुयोग करने  की सोची के क्योंकि वे लोग समय समय पर नेहरु को लेकर अपमानजनक और इतिहास में उनकी भूमिका को लेकर विवादस्पद बयान देते रहते है ,यदी नेहरू की तस्वीर यहाँ देखेंगे तो असहज या नाराज़ हो सकते है .

संजय अग्रवाल ने आयोजन के मुखिया से कहा कि क्या नेहरू की तस्वीर मंच से हटा दें क्या ,जबाब आने के पहले ही उन्होंने सुझाव भी दे डाला कि नेहरू की तसवीर मंच पर रखना ठीक नही होगा .आयोजको ने कहा भी कि क्या बात करते हो नेहरू के जन्म दिन मनाने के दिन उनकी ही तस्बीर कैसे हटाई जा सकती है .
इसपर अग्रवाल जी ने एक रास्ता निकाला कि नेहरू की तस्वीर उठा कर मंच के कोने में रख देते है ,जिससे वो मंच पर रहेगी भी और दिखेगी भी नहीं .
तो कहानी आगे बढ़ती है और मुख्यमंत्री मंच पर पहुचते है और असम्मानजनक रूप से कोने में रखी नेहरू की तस्वीर पर नज़र पड़ी .

तो उन्हें बहुत बुरा लगा और कलेक्टर उमेश अग्रवाल को कहा कि तस्वीर को सम्मान सहित मंच पर प्रमुखता से रखें ताकी कार्यक्रम शुरु किया जा सके . मुख्यमंत्री रमन सिंह ने माल्यापर्ण किया और नेहरू के कामों की तारीफ की ,उनका भाषण भाजपा की लाइन से कहीं ज्यादा अलग और सकारात्मक था .
**
( दुर्ग ,नवप्रदेश की रिपोर्ट 18.11.2017 के आधार पर )

 

CG Basket

Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account