सरकार ने कोरबा समाज को दिहाड़ी ,पहाड़ी ओर बघेल क्षत्री में बांट दिया है : जशपुर में कोरबा उतरे सड़कों पर पहली बार .

इतिहास में पहली बार सड़क पर उतरे हजारों पहाड़ी कोरवा समाज, कहा-सरकार ने हमे बांटकर रख दिया ….

दीपक वर्मा    की रिपोर्ट हाईवे क्राइम चैनल से आभार सहित .

15.11.2017

जशपुर। वर्षों पुरानी मांग जब आवेदन ओर निवेदन से अब तक पूरा नही हुआ तो कोरवा समाज के लोग आज आखिरकार सड़क पर आ गए ।कोरवाओं का प्रतिनिधत्व कर रहे कोरवा नेताओं का कहना है कि जब उनकी मांग पूरी होती नही दिखी ओर जब उन्हें लगा कि अब बगैर आंदोलन कोई रास्ता नही निकलेगा तब जाकर उन्होंने सड़क की लड़ाई का रास्ता अख्तियार किया,
गौरतलब है कि इतिहास में पहली बार कोरवा समाज के लोग आंदोलन की राह पर उतर रहे हैं ।जैसा कि हमने  बताया था आज याने बुधवार को जशपुर जिले हजारों पहाड़ी कोरवा आज जिला मुख्यालय में एकत्र हुए और तमाम सरकारी योजनाओं के लागू होने के बावजूद उनकी हो रही उपेक्षा के विरुद्ध एक स्वर में आवाज उठाया।

क्या कहा यह भी पढिये

आंदोलन का नेतृत्व कर रहे कोरवा समाज के प्रतिनिधि प्रदीप नारायण दीवान ने बताया कि सरकार ने उनके समाज को दिहाड़ी ,पहाड़ी ओर बघेल क्षत्री में बांट दिया है जिसके चलते उनके समाज को तरह तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है ।उन्होंने कई बार समाज की ओर से स्थानीय जनप्रतिनिधियों ओर मुख्यमंत्री को भी इन समस्याओं से अवगत कराया लेकिन आज तक उनकी सुनवाई नही हुई ।समाज आज भी परेशान है ऐसे में आंदोलन ही एकमात्र चारा है

हम आपको बता दें कि प्रदीप नारायण दीवान भाजपा समर्थित जनपद अध्यक्ष होने के अलावे जशपुर राजपरिवार के काफी करीबी भी हैं ओर यह भी बताना लाजमी होगा कि जशपुर राजपरिवार के सदस्य व जशपुर जिला पंचायत के उपाध्यक्ष प्रबल प्रताप जूदेव करवाओ के घोषित संरक्षक है …….

@दीपक वर्मा    की रिपोर्ट हाईवे क्राइम चैनल से आभार सहित .

Leave a Reply