High Court of Chhattisgarh has passed an stay order against the TRN Company’s illegal construction over the tribal land and instructions to the district collector of Raigarh to ensure for it’s immediate compliance.

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

14.11.2017

High Court of Chhattisgarh has passed an stay order against the TRN Company’s illegal construction over the tribal land and instructions to the district collector of Raigarh to ensure for it’s immediate compliance.
Respondent no. 6 company has been issued notice by justice Sanjay k Agrawal of high court and directed that it should not involve in further cutting of trees.

ग्रामीणो की ओर से एडवोकेट किशोर नारायण  पैरवी कर रहे है.

**

मुनादी रिपोर्ट

घरघोड़ा के भेंगारी स्थित TRN पावर के काम पर हाई कोर्ट ने फिलहाल रोक लगा दी है। TRN एनर्जी अपने फैक्ट्री के पास निर्माण कार्य कर रही थी , ग्रामीणों का आरोप है कि दूसरों के ज़मीन के पेड़ों को TRN बिना किसी अनुमति के कटाई कर रहा था। इसी बात को लेकर ग्रामीण हाई कोर्ट चले गए थे जहां उन्हें स्टे मिल गया है।

पूर्व में आदिवासी ज़मीन खरीदी के मामले में विवादों में आई घरघोड़ा के भेंगारी स्थित TRN एनर्जी अपने पावर प्लांट के आसपास निर्माण कार्य कर रही थी। याचिका कर्ता का आरोप था कि TRN पहले तो आदिवासी ज़मीन में निर्माण कार्य कर रहा है जिसपर उसका अधिकार ही नहीं है दूसरी ओर बिना अनुमति पेड़ो की कटाई भी अवैध तरीके से की जा रही थी।

TRN एनर्जी अपने पावर प्लांट के पास ऐश डायिक, पेट्रोल पंप आदि का निर्माण करना चाह रही थी। उनका काम बाकायदा शुरू भी हो चुका था । लेकिन ग्रामीणों की आपत्ति के बाद भी न सिर्फ अवैध पेड़ कटाई जारी थी बल्कि 170 ख के नियम को भी दरकिनार किया जा रहा था। इस मामले में हाइकोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए कलेक्टर को स्वयं मौका मुआयना करने के भी निर्देश दिए हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

CG Basket

Next Post

स्याह अँधेरे वाले समय में आज भी मुक्तिबोध उम्मीद की किरण की तरह हैं : मुक्तिबोध ऐसे दूरदर्शी कवि थे जिन्होंने अपने आने वाले समय की भयावहता को भांप लिया था इसलिए वे आज अधिक प्रासंगिक हो उठे हैं-- ललित सुरजन :

Tue Nov 14 , 2017
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins. 14.11.2017 रायगढ़ | नीलांचल भवन में छत्तीसगढ़ प्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन की ओर से मुक्तिबोध जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर जयन्ती 13 नवम्बर को उनकी कविताओं के पाठ के साथ साथ उन कविताओं पर टिप्पणी एवं आज की चुनौतियां और […]

You May Like