देश भर के साक्षर भारत कार्यक्रम के प्रेरकों, राज्य संसाधन केंद्र के कर्मचारियों तथा जिला लोक शिक्षा समिति से जुड़े साक्षरताकर्मियों/समन्वयकों से अपील”. “जनविरोधी भाजपा को परास्त करें, सब के लिए शिक्षा-स्वास्थ्य-रोजगार देने वाले जन विकल्प का समर्थन करें”

11.04.2019 साथियों, देश आज एक गहरे संकट के मुहाने पर खड़ा है जहां देश का संविधान व लोकतंत्र भीषण खतरे का सामना कर रहा है। हमें अपने देश में संविधान, लोकतंत्र व धर्मनिरपेक्ष संरचना को बचाना है तो इस लोकसभा चुनाव में हमें नफरत फ़ैलाने वाली, लोगों को धर्म/संप्रदाय के Continue Reading

आंकड़ों_के_झूठ_पर_चिंतित_108_अर्थशास्त्री

   बादल सरोज भारत में सांख्य‍िकीय आंकड़ों में ‘राजनीतिक दखल’ पर ग‍हरी चिंता जताते हुए 108 अर्थशास्त्रियों और समाजशास्त्रियों ने ‘संस्थाओं की आजादी’ को बहाल करने और सांख्यिकीय संगठनों की ईमानदारी को बनाए रखने का आह्वान किया है। ● दखल का बोलचाल की भाषा मे मतलब है, झूठे आँकड़े बनाना Continue Reading

देशबंधु के साठ साल : ललित सुरजन 

11.04.2019 मायाराम सुरजन ,देशबंधु के संस्थापक  देशबन्धु ने साठ साल का सफर तय कर लिया है। हीरक जयंती के लिए बस दो दिन शेष हैं। शुभ मुहूर्त के हिसाब से रामनवमी संवत् 2016 को रायपुर से देशबन्धु का प्रकाशन प्रारंभ हुआ था। प्रचलित कैलेण्डर के हिसाब से तारीख थी 17 Continue Reading

बस्तर की लड़ाई सिर्फ एक सीट या वोट की लड़ाई नहीं है : रूचिर गर्ग

11.04.2019 बस्तर की लड़ाई आदिवासियों के उन सवालों की लड़ाई है जिनका हवाला देकर माओवादियों ने वहां पैर जमाए और उनके कथित प्रभाव के लगभग साढ़े तीन दशक बाद भी यदि कुछ हासिल हुआ है तो बंदूक ,बारूद और खून में इज़ाफ़ा । बंदूक इधर की हो या उधर की, Continue Reading

मुक्तिबोध का आलोचनात्मक लेख : अजय चंन्द्रवंशी 

11.04.2019 मुक्तिबोध का आलोचनात्मक लेखन उनके रचनात्मक संघर्ष और आत्मसंषर्ष का ही हिस्सा है.वे मुख्यतः कवि हैं, आलोचना मुख्यतः उन्होंने अपने समय के आलोचना की प्रवृति से असंतुष्ट होकर लिखी है. उनके आलोचनात्मक लेखन के मुख्यतः तीन भाग हैं- (1) नयी कविता के अंतः प्रवृत्तियों के संबंध में (2) काव्य Continue Reading

वेबसाइट की स्टिंग में खुलासा: सीधे पीएमओ से संचालित था नोट बदलने का धंधा, सिब्बल ने की जांच की मांग.

11.04.2019 नई दिल्ली। कांग्रेस ने एक स्टिंग के जरिये एक बार फिर यह साबित करने की कोशिश की है कि नोटबंदी देश का सबसे बड़ा घोटाला था। पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने मंगलवार को इससे जुड़ी एक स्टिंग को संवाददाताओं के सामने पेश किया। इसमें दिखाया गया है Continue Reading

सपने_देखने_की_आजादी_के_लिए_वोट ; ‘बराबरी और सामाजिक न्याय के लिए वोट दें ,अंधेरगर्द और बर्बर ताकतों को हरायें ; देेेश के प्रमुख रंंगकर्मियों ने किया आग्रह .

11.04.2019 “आज, भारत का यह विचार बहुत खतरे में है। आज गीत, नृत्य, हंसी खतरे में है। आज हमारा प्रिय संविधान खतरे में है। जिन संस्थानों को तर्क और बहस के जरिये असंतोष का खात्मा करना है, उनका दम घुट गया है। सवाल करने वालों और सच बोलने वालों को Continue Reading

बौद्धिक विपन्नता और अवार्ड वापसी की परिस्थितियों पर राजेश जोशी का साक्षात्कार ,लेफ्ट फ्रंट यूट्यूब चैनल पर ,एपीसोड 49.50.

लेफ्ट फ्रंट यूट्यूब पर वरिष्ठ साहित्यकार और जन कवि राजेश जोशी के दो और साक्षात्कार .एपीसोड 49,50 . बौध्दिक विपन्नता देश को गलत जगह ले जाती है और जब देश के पचास साहित्यकारों ने अपने अवार्ड वापस किये ,उन परिस्थितियों पर उनकी बातचीत .यह बहुत बड़ा मामला था .जिसे आज Continue Reading