युध्द के ख़िलाफ़ ‘: शरद कोकास 

कवि  उठो लिखो कविता युध्द के ख़िलाफ़ युध्द में प्रयुक्त प्रक्षेपास्त्रों के ख़िलाफ़ प्रक्षेपास्त्र चलाने वाले हाथों के ख़िलाफ़ हाथों को आदेश देने वाले दिमागों के ख़िलाफ़ लिखो कि अभी वसुंधरा पर हम सांस लेना चाहते है खुली हवा में लिखो कि अभी आकाश में हम देखना चाहते हैं चमकता Continue Reading

बांगलादेश गतिशील लेखक संघ के ढाका में हुए तृतीय राष्ट्रीय सम्मेलन में उद्घाटन सत्र में दिया गया वक्तव्य.

बांगलादेश गतिशील लेखक संघ के ढाका में हुए  तृतीय राष्ट्रीय सम्मेलन में उद्घाटन सत्र में दिया गया वक्तव्य :  श्री नथमल शर्मा . स्थान- ढाका विश्वविद्यालय का सभागार । दिनांक 15 मार्च 2019  🔵  सबसे पहले आप सबको प्रगतिशील लेखक संघ भारत की तरफ़ से मुबारकबाद और शुभकामनाएं । अपनी Continue Reading

उर्दू , सिर्फ मुसलमानों की नहीं है सरकार बहादुर !

लोकजतन: 16-31 मार्च का  सम्पादकीय  ● यह दूसरी बार हुआ, जब मध्यप्रदेश शासन ने उर्दू अकादमी को संस्कृति विभाग से निकालकर अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के हवाले कर दिया है। शासन की सोच पर तरस आता है कि वह सच्चर कमेटी की रिपोर्ट लागू करने की जगह उर्दू अकादमी को अल्पसंख्यक Continue Reading

खुला पत्र : भारत के मुख्य न्यायाधीश के नाम इंदिरा जयसिंंह  एक खुला ख़त { हिन्दी  अनुवाद }

(अंग्रेजी मूल से राजेन्द्र सायल द्वारा अनुवादित) rajendrasail@gmail.com An Open Letter From Indira Jaising to the Chief Justice of India on Women’s Day) “न्यायपालिका को हमारी भाषा में (बोली और न्यायिक दोनों में) महिलाओं के प्रति अपमानजनक प्रवृत्तियों को विवेकपूर्ण तरीके से ख़त्म करना चाहिए.” “The judiciary must consciously eliminate Continue Reading

सुप्रीम कोर्ट : मी लार्ड , भारत के सारे मुस्लिम को पाकिस्तान और वहाँ से सारे हिन्दुओं को भारत भेजिये .: पीआईएल हुई दायर और फिर रद्द .

Supreme Court dismisses plea seeking to send Indian Muslims to PakistanJustice Rohinton Nariman warned that the court will pass strictures against the petitioner’s counsel. by Scroll Staff Published  15.03.2019 Pinakpani The Supreme Court on Friday dismissed a petition seeking to send Indian Muslims to Pakistan, according to Bar and Bench. The Continue Reading

मन्नू भंडारी : कहानी यह भी  :  अजय चंन्द्रवंशी कवर्धा 

16.03.2019 मन्नू भंडारी जी चर्चित लेखिका हैं। कहानी, उपन्यास, नाटक, पटकथा उनके लेखन के विविध आयाम हैं। ‘यही सच है’, ‘मैं हार गई’, ‘अकेली’ ‘एक प्लेट सैलाब’, ‘तीन निगाहों की एक तस्वीर’, ‘त्रिशंकु’ जैसी कहानियां हो या ‘आपका बंटी’, ‘महाभोज’ जैसे उपन्यास या फिर उनका नाट्य रूपांतरण,काफी चर्चित हुए हैं Continue Reading

दर्पण के उस पार व्यथित विचलित मन : सावि  की डायरी के कुछ छिटके पन्ने ..।

आईने के उस पार दिख रही अक्स मुझे निरंतर रोती आंखों से निहार रही थी जैसे कुछ कहना चाह रही हो पर जंजीरों में अंदर से जकड़ी हुई हो जैसे मैंने पूछा कौन हो तुम जल से भरे तुम्हारी नैन कातर नजरों से क्यों निहार रही है मुझे उसने कहा Continue Reading