” रंग सरोवर , का अंतिम पूर्वाभ्यास , अश्लीलता से परे , लोककला का सार्थक मंचन.गरियाबंद .

किरीट ठक्कर गरियाबंद। सुविख्यात छत्तीसगढ़ी फिल्मों व नाट्यमंच के निर्देशक , गीतकार, संगीतकार भूपेंद्र साहू की नाट्य संस्था ” रंग सरोवर ,के मंचन का फाइनल रिहर्सल बुधवार की रात ग्राम बारूका में किया गया , गिने चुने लोंगो की उपस्थिति में की गई ये प्रस्तुति बहुत ही शानदार रही , Continue Reading

चक्ररधर समारोह रामलीला मैदान में क्यों ? ऑडिटोरियम में नहीं होगा तो करोड़ों खर्च कर ऑडिटोरियम क्यों बनाया गया?क्या यह जनता के धन की बर्बादी नहीं है?

चक्रधर समारोह रामलीला मैदान में होगा इस अचानक समाचार से सांस्कृतिकर्मियों,बुद्धिजीवियों, एवं प्रबुद्ध नागरिकों को अत्यंत ही आश्चर्य हुआ।पान ठेलो,चाय की टपरियों,होटलों,चौक चौराहों,दफ्तरों , घर आंगन एवं दोस्त- यारों और सोशल मीडिया में यह चर्चा और सवाल आम हो गया है कि “यदि चक्रधर समारोह ऑडिटोरियम में नहीं होगा तो Continue Reading

लछमनिया का चूल्हा:अस्मिता और अधिकार की चिंता. अजय चंन्द्रवंशी ,कवर्धा .

पुस्तक- लक्षमनिया का चूल्हा(कविता संग्रह) कवि- विश्वासी एक्का प्रकाशक- प्यारा केरकेट्टा फाउंडेशन,राँची(झारखंड) मूल्य- 120/ अजय चन्द्रवंशी मो. 9893728320

भटक रहा बम भोला हिन्दू धर्म का नया रूप : रोहित धनकर.

कुछ दिन पहले में अपने गाँव गया था। यह झुंझुनु जिले में एक छोटा सा गाँव है। यहाँ एक मंदिर में दिन रात ज़ोर-ज़ोर से तथाकथित धार्मिक भजन लाउड-स्पीकर पर बजते रहते हैं। एक भजन के बोल सुनने की मैंने कोशिश की। बाकी तो मुझे याद नहीं है अब, पर Continue Reading

करोगे याद तो …. खय्याम की हर बात याद आएगी ..

मुंबई . मशहूर संगीतकार मोहम्मद जहूर ‘ खय्याम ‘ हाशमी अब नहीं रहे । मुंबई के एक निजी अस्पताल में सोमवार रात करीब 9 : 30 बजे दिल दौरा पड़ने से 93 वर्ष की उम्र में निधन हो गया । फेफड़ों में संक्रमण के बाद से 16 अगस्त से अस्पताल Continue Reading

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150 ते जयंती वर्ष पर ,अग्रज नाट्य प्रस्तुति .मंगल से महात्मा आज़ादी का सफरनामा . नाटक की रचना प्रक्रिया और अग्रज की कहानी.

🔷🔶🔷🔶 बिलासपुर . महात्मा गांधी के जन्म के 150 वां वर्ष सारा देश मना रहा हैं. एसे सामयिक काल में नाटकों और सामाजिक मुद्दों के लिये समर्पित अग्रज नाट्यदल ने आजादी का सफरनामा ” मंगल से महात्मा ” का बेहतरीन मंचन किया यह पूरी तरह नाट्य संगीत लाईट साउंड से Continue Reading

प्रियंका की कलाकार बनने की कहानी उन्ही की जुबानी

स्कूल में नाटक किया,डांस किया और यही जुनून था एक, इतना कि घर से कभी समर्थन नही मिला करता था, और घर के बिना मदद से भी इधर उधर से चीजो का जुगाड़ करके डांस में भाग ले लिया करती थी और ज्यादातर प्रथम स्थान प्राप्त करती थी। मैं अकेली Continue Reading

शाबाश अग्रज : अग्रज नाट्य दल बिलासपुर की बेहतरीन पेशकश – ” मंगल से महात्मा ” आज़ादी का सफ़रनामा . नवल शर्मा

🔹🔹 ध्वनि प्रकाश संयोजन की कसी सजावट संग , नृत्यनाटिका के ज़रिये , आज़ादी की लड़ाई के नब्बे साल का कथानक बुन देना वाकई काबिल ए तारीफ़ है । ” अग्रज की पूरी टीम ” और उनकी सोद्देश्य सार्थक प्रस्तुति के लिये की गयी मेहनत को सलाम । 🔹🔹 अपन Continue Reading

मंगल से महात्मा …

बिलासपुर में प्रस्तुत नृत्य नाटक मंगल से महात्मा की समीक्षा प्रस्तुत की कला मर्मज्ञ नंद कश्यप जी ने सीजीबास्केट के लिये . डाक्टर राजेश टंडन लिखित एवं सुनील चिपड़े द्वारा निर्देशित मंगल से महात्मा नृत्य नाटिका की 11 वर्षों बाद पुनर्प्रस्तुति ,लाईट एण्ड साऊंड के साथ बेहद प्रभावशाली प्रस्तुति है।1857 Continue Reading

सिम्स ऑडिटोरियमःअग्रज नाट्य दल की प्रस्तुति गुलामी से आजादी तक की कहानी का मंचन

पत्रिका न्यूज़ बिलासपुर . अग्रज नाट्य दल के कलाकारों ने शनिवार को सिम्स आडिटोरियम में ‘ मंगल से महात्मा ‘ शीर्षक से आजादी का सफरनामा की कहानी की प्रस्तुति दी जिसमें मंगल पाण्डेय द्वारा शुरू किए गए आजादी की लड़ाई से लेकर महात्मा गांधी के आंदोलन तक के सफरनामा कलाकारों Continue Reading