मल्टीप्लैक्स में प्रदर्शन से छत्तीसगढ़ी फिल्मों को मिला नया आयामः – जीवेश चौबे

छतीसगढी फिल्म छत्तीसगढ़ी फिल्मों की 5 दशकों से भी ज्यादा की  यात्रा में आज एक नया और महत्वपूर्ण  अध्याय जुड़ गया । आज  एक छत्तीसगढ़ी फिल्म हंस झन पगली फंस जाबे”  छत्तीसगढ़ के फिल्मकारों की मंशा के अनुरूप  “मल्टीप्लैक्स  में प्रदर्शित हुई । इसी के साथ छत्तीसगढ़ी फिल्मों को एक नया आयाम मिला साथ ही छत्तीसगढ़ी फिल्मों Continue Reading

मल्टीप्लैक्स में प्रदर्शन से छत्तीसगढ़ी फिल्मों को मिला नया आयामः – जीवेश चौबे

छत्तीसगढ़ी फिल्म छत्तीसगढ़ी फिल्मों की 5 दशकों से भी ज्यादा की  यात्रा में आज एक नया और महत्वपूर्ण  अध्याय जुड़ गया । आज  एक छत्तीसगढ़ी फिल्म हंस झन पगली फंस जाबे”  छत्तीसगढ़ के फिल्मकारों की मंशा के अनुरूप  “मल्टीप्लैक्स  में प्रदर्शित हुई । इसी के साथ छत्तीसगढ़ी फिल्मों को एक नया आयाम मिला साथ ही छत्तीसगढ़ी फिल्मों Continue Reading

प्रभाकर चौबे स्मृति संवाद श्रंखला ,कल आयोजन.

प्रभाकर चौबे की प्रथम पुण्यतिथि पर आयोजन . प्रभाकर चौबे स्मृति संवाद श्रंखला .1 लोकतंत्र की नई चुनौतियां और हमारा भविष्य . मुख्य वक्ता . डा.ईश्वर सिंह दोस्त , स्वतंत्र लेखक व युवा विचारक ,भोपाल . अध्यक्षता ललित सुरजन ,वरिष्ठ साहित्यकार व संपादक देशबन्धु ,रायपुर . दिनांक . 17 जून Continue Reading

छत्तीसगढ फिल्म एंड विजुअल आर्ट सोसाइटी आगामी तीन माह में विभिन्न आयोजन .तैयारी बैठक में बनी योजना.

छत्तीसगढ फिल्म एंड विजुअल आर्ट सोसाइटी आगामी तीन माह में दो नाट्य वर्कशाप के अलावा अपनी पुरानी नाट्य प्रस्तुतियों को फिर तैयार कर उनके शो आयोजित करेगी । पूर्व मे मंचित शरद जोशी की रचना अंधो का हाथी . हबीब तनवीर द्वारा लिखित नाटक चरण दास चोर , गाँव के Continue Reading

परसाई की रायल्टी राशि परिवार में सबके बीच बराबर बंटेगी, भतीजी अमिता शर्मा ने लंबी कानूनी लड़ाई लड़कर दिलाया हक○

बिलासपुर :- प्रख्यात साहित्यकार हरिशंकर परसाई की रचनाओं पर मिलने वाली रायल्टी को लेकर एक महत्वपूर्ण फैसला न्यायालय से हुआ है । न्यायालय के आदेश के अनुसार रायल्टी की राशि अब परसाई परिवार के वैध उत्तराधिकारियों के बीच बराबर – बराबर बंटेगी । इसके लिए श्री परसाई की भतीजी अमिता Continue Reading

चेंदरू की कहानी ने जीता था दुनिया का दिल , अब 60 साल बाद फिर अबूझमाड़ पर फ़िल्म.

जगदलपुर . पत्रिका पचास को दशक खत्म हो रहा था , तब स्वीडिश ऑस्कर नॉमिनेटेड डायरेक्टर अर्ने सक्फोर्ड अबुझमाड़ के जल के दौरे पर थे । उन्होंने वहां एक 10 साल के बच्चे को बाध से खेलते देखा । उन्हें यह दुर्लभ दृश्य भा गया और वे वापस स्वीडन चले Continue Reading

युवा रंगकर्मी मानव अधिकार कार्यकर्ता अनुज श्रीवास्तव से डीएमए इंडिया के लिये संजीव खुदशाह की महत्वपूर्ण बातचीत.

युवा रंगकर्मी सामाजिक कार्यकर्ता अनुज श्रीवास्तव से बातचीत हो रही है पर्सनालिटी ऑफ द वीक की इस खास कड़ी में और बातचीत कर रहे हैं संजीव खुदशाह। वह बता रहे हैं कि किस प्रकार उन्होंने डॉ अंबेडकर और मार्क्स की तस्वीर के समक्ष संविधान की शपथ लेकर विवाह किया। वे Continue Reading

सौ से अधिक छत्तीसगढ़ी कलाकारों का चार करोड़ से ज्यादा रूपये का भुगतान अटका संस्कृति विभाग में. बजट नहीं है विभाग पर .

पत्रिका न्यूज रायपुर . संस्कृति विभाग कलाकारों के चार करोड़ की राशि का भुगतान का हुआ है । प्रशासन से लेकर मंत्री तक चक्कर काटकर थक चुके कलाकारों में इसे लेकर अब रोष नजर आने लगा है । । विभागीय जानकारी के अनुसार 2017 से लेकर अब तक 100 से Continue Reading

छत्तीसगढ़ सिनेमा के दस दुर्भाग्य .

अपना मोर्चा के लिये राजकुमार सोनी छत्तीसगढ़ सिनेमा रायपुर. हर दुर्भाग्य खतरनाक ही होता है, इसलिए एक पाठक की हैसियत से आप कह सकते हैं कि इस खबर के शीर्षक में खतरनाक शब्द नहीं होता तो भी काम चल सकता था. छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण हुए 19 साल हो गए Continue Reading

चे ग्वेरा के सुपर ब्रांड रूप और इसके व्यावसायिक इस्तेमाल के विरोध में ‘चे’ के बच्चों उनके विचारों की रक्षा के लिए आगे आना पड़ा.

प्रोम्थियस प्रताप सिंह की प्रस्तुति इसे विडम्बना ही कहेंगे कि अपनी मौत के चालीस वर्षों के बाद चे ग्वेरा का नाम सुपर ब्रांड के रूप में उभरा है इसके व्यावसायिक इस्तेमाल के विरोध में ‘चे’ के बच्चों उनके विचारों की रक्षा के लिए आगे आना पड़ा। एक क्रांतिकारी के सुपर Continue Reading