मराठवाड़ा के परभणी ज़िला मुख्यालय से दूर के गांवों तक सूखे के हालात डरा देने वाले हैं…..

मयंक सक्सेना ,मराठवाड़ा से TruthNDareGroundReport के लिये मराठवाड़ा के परभणी ज़िला मुख्यालय से दूर के गांवों तक सूखे के हालात डरा देने वाले हैं… मराठवाड़ा के उस गांव में एक बूंद पानी नहीं है, किसान से मजदूर बन गये एक शख्स का 11 साल का बेटा आहात पठान, अपने वालिद Continue Reading

रुब़रू , सीजीबास्केट यूट्यूब चैनल : दलित चिन्तक, साहित्यकार और लेखक संजीव खुद्शाह से विभिन्न विषयों पर विस्तार से चर्चा. तीन भाग में ..

उनकी लेखन प्रक्रिया ,अनुभव , चिंताएं और आज के सन्दर्भ में अम्बेडकर वाद ,वामपंथ और गाँधी पर एतिहासिक सन्दर्भ में बातचीत . सुविधा के लिए इस बातचीत को तीन भाग में बांटा गया हैं.,सीजी बास्केट के लिए बातचीत की हैं रंगकर्मी अनुज श्रीवास्तव ने. 💜💙💚🖤❤ भाग 1 पहली पुस्तक सफाई Continue Reading

प्रसिद्ध जर्मन नाटककार और कवि बर्तोल्त ब्रेख्त के राजनीतिक व्यंग्य ‘इफ़ शार्क्स वर मैन’ का हिंदी अनुवाद….

मकान मालकिन की छोटी-सी बच्ची ने श्रीमान क्यूनर से पूछा, ‘अगर शार्क इंसान होतीं तो क्या वे नन्ही मछलियों के साथ अच्छा बर्ताव करतीं? ‘हां, बिलकुल’ उन्होंने जवाब दिया, ‘अगर शार्क इंसान होतीं तो वे नन्ही मछलियों के लिए समंदर में बड़े-बड़े बक्से बनवातीं. इनमें हर तरह का खाना होता, Continue Reading

ऐडसमेटा हत्याकांड की जाँच करे प्रदेश के बाहर की एजेंसी: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि 6 साल पहले ऐडसमेटा में सुरक्षा बालों द्वारा मारे गये आठ आदिवासियों की जाँच करे प्रदेश के बाहर की एजेंसी; सामाजिक कार्यकर्त्ता के याचिका पर किये आदेश . देखते है इस आदेश का होता हैं कुछ या वही ढाक के तीन पात. 4.05.2019सुप्रीम कोर्ट में Continue Reading

भारतीय राजनीति के सबसे संकटग्रस्त समय में…

लोकसभा चुनाव की गहमागहमी में कुछ गंभीर बातें . आनंद मिश्रा , जाने माने समाजवादी चिंतक और राजनैतिक कार्ययकर्ता .नंद कश्यप, वामपंथी आंदोलन और सामाजिक कार्यकर्ता से चर्चा की मानवाधिकार कार्यकर्ता डा. लाखन सिंह . चर्चा के प्रमुख बिंदु कुछ निम्न रहे. *लोकसभा चुनाव लगभग आधा निबट चुका है .आपका Continue Reading

निर्भया के माता-पिता इस बार वोट नहीं देंगे, वजह शर्मिंदा करने वाली है

वोट मांगने से पहले पॉलिटिकल पार्टियों को ये सुन लेना चाहिए चुनाव का मौसम चल रहा है. हर तरफ़ बस एक ही नसीहत दी जा रही है कि जो भी हो, वोट ज़रूर दें. ये आपकी ड्यूटी है. पर दिल्ली शहर में दो लोग ऐसे हैं जो इस बार वोट Continue Reading