हिन्दू महासभा ने कहा गांधी की तस्वीर सभी सरकारी दफ़्तरों से हटाई जाए

1

Ndtv में प्रकाशित खबर

अखिल भारत हिंदू महासभा ने गुरुवार को एक विवादित बयान में गांधीवाद को देश में बढ़ते आतंकवाद की वजह बताते हुए सरकारी दफ्तरों में लगी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तस्वीरों और प्रतिमाओं को तुरंत हटाए जाने की मांग की है। महासभा ने संशोधित नागरिकता कानून और राष्ट्रीय नागरिक पंजी का समर्थन करते हुए भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करने का भी अनुरोध किया है। शहर के शारदा रोड स्थित संगठन के कार्यालय पर आज संवाददाताओं से बातचीत में अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा और प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल ने कहा, ‘‘देश में असली आतंकवाद की वजह गांधीवाद है, क्योंकि देश में आज जो भी राष्ट्र विरोधी गतिविधियां हो रही हैं, उनसे जुड़े लोग गांधीवादी होने का दावा करते हैं।”

महासभा के दोनों नेताओं ने कहा, ‘‘देश में होने वाली राष्ट्रविरोधी गतिविधियों जैसे…भीड़ के साथ मिलकर आम लोगों की हत्या करना, पुलिस सहित सभी सुरक्षा एजेंसियों पर हमला करना और भारत के टुकड़े-टुकड़े करने की बात करना-ऐसे सभी राष्ट्रद्रोही कार्य करने वाले केवल और केवल करमचंद गांधी को ही अपना आदर्श मानते हैं।”

उन्होंने कहा, ‘‘शाहीन बाग जैसे अलोकतांत्रिक धरने में शामिल लोग गांधी को आदर्श मानते हैं। इसका सबूत है कि ये सभी गांधी के पोस्टर लगाकर आंदोलन करते हैं।” शर्मा और अग्रवाल ने कहा, ‘‘1947 में भी देश का बंटवारा गांधी की वजह से हुआ था और मौजूदा वक्त में भी देश को खंडित करने का सपना देखने वालों के आदर्श गांधी हैं।”  इसलिए अखिल भारत हिंदू महासभा खुले पत्र के जरिए राष्ट्रपति से मांग करती है कि देश के सभी सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों से गांधी के सभी चित्र और प्रतिमाएं तुरंत हटाने का आदेश दें।

CG Basket

One thought on “हिन्दू महासभा ने कहा गांधी की तस्वीर सभी सरकारी दफ़्तरों से हटाई जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बैलाडीला डिपोज़िट-13 : फ़र्ज़ी ग्रामसभा, मरे हुए लोगों के हस्ताक्षर लेकर दे दी खनन की अनुमति

Mon Mar 9 , 2020
Share on Facebook Tweet it Share on Google Pin it Share it Email छत्तीसगढ़ के गठन के बाद केन्द्र सरकार की एनएमडीसी और राज्य सरकार की संस्था छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम यानी सीएमडीसी ने 2008 में मिलकर लौह अयस्क के उत्खनन के लिये एनसीएल नामक कंपनी बनाई थी. 2011 में बैलाडीला की डिपोज़िट-13 जिसमें 350 मिलियन टन […]
NMDC

You May Like

Breaking News